img

‘इंडिया अलायंस’ की बैठक’ में दिखी विपक्ष की एकजुटता, सीट बंटवारे समेत कई मुद्दों पर हुई चर्चा
नई दिल्ली। विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) के घटक दलों के प्रमुख नेताओं ने मंगलवार को नई दिल्ली स्थित पांच सितारा होटल में एक अहम बैठक की जिसमें अगले लोकसभा चुनाव के लिए सीट बंटवारे, साझा जनसभाओं और नए सिरे से रणनीति बनाने समेत कई मुद्दों पर चर्चा की गई। पटना, बेंगलुरु और मुंबई के बाद दिल्ली में आयोजित की गई गठबंधन की यह चैथी बैठक है।

बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, जनता दल (यू) से बिहार के सीएम नीतीश कुमार और पार्टी अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, तृणमूल कांग्रेस से पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और पार्टी महासचिव अभिषेक बनर्जी, राष्ट्रीय जनता दल से लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार तथा शिवसेना (यूबीटी) के उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे ने हिस्सा लिया।
बैठक विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के ख़राब प्रदर्शन की पृष्ठभूमि में हुई
वहीं यूपी से समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव तथा पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव, द्रमुक से तमिलनाडु के सीएम मुख्यमंत्री एमके स्टालिन और वरिष्ठ नेता टी आर बालू, नेशनल कान्फ्रेंस के फारूक अब्दुल्ला, पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की महबूबा मुफ्ती, राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष जयंत चैधरी, अपना दल (के) से कृष्णा पटेल एवं पल्लवी पटेल जैसे कई अन्य नेताओं ने बैठक में भाग लिया। बैठक हाल में संपन्न विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के ख़राब प्रदर्शन की पृष्ठभूमि में हुई है। राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को क़रारी हार का सामना करना पड़ा है। सूत्रों का कहना है कि इस बैठक में सकारात्मक एजेंडा तय करने, सीटों के बंटवारे, नए सिरे से रणनीति बनाने, और साझा जनसभाओं को लेकर मुख्य रूप से चर्चा हुई।
बैठक से पहले तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने सोमवार को कहा था कि ‘इंडिया’ गठबंधन के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार का फै़सला 2024 के लोकसभा चुनाव के बाद किया जाएगा। वहीं बिहार के उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने सोमवार को दिल्ली में संवाददाताओं से कहा था कि पहले गठबंधन की जो समितियां बनाई गई थीं, वे पर्दे के पीछे काम कर रही थीं और चुनाव की तैयारी की जा रही है। बिहार के सीएम नीतीश कुमार की ‘इंडिया’ गठबंधन में आगे की भूमिका के बारे में पूछे जाने पर यादव ने कहा था कि सभी की भूमिका एक समान है और सभी का साझा उद्देश्य विभाजनकारी ताकतों को सत्ता से बाहर करना है।
‘‘मैं नहीं, हम’’ नारे के साथ आगे बढ़ने का इरादा है इंडिया अलायंस का
कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का मुकाबला करने के लिए विपक्षी दलों का इरादा एकजुटता बनाए रखते हुए ‘‘मैं नहीं, हम’’ नारे के साथ आगे बढ़ने का है। अगले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का मुकाबला करने के लिए 26 विपक्षी दलों ने ‘इंडिया’ गठबंधन बनाया है। ‘इंडिया’ गठबंधन की अब तक तीन बैठक पटना, बेंगलुरु और मुंबई में हो चुकी है।
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ‘इंडिया’ गठबंधन के प्रधानमंत्री उम्मीदवार के रूप में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के नाम का प्रस्ताव किया है। जिसपर एमडीएमके नेता वाइको आदि नेताओं ने इसका समर्थन किया है।